मीना गोदरे, इंदौर ,

दिल से मर कर भी ना निकलेगी वतन की उल्फ़त,
मेरे मिट्टी से भी खुशबू-ए-वतन आएगी..!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.