मधु जोशी, वैभव नगर, इंदौर ,

 

चढ गये जो हंसकर सूली, खाई जिन्होने सीने पर गोली,
हम उनको प्रणाम करते हैं, जो मिट गये देश पर,हम उनको सलाम करते हैं..!!

Leave a Reply

Your email address will not be published.