नवनीत जैन

मेरे मन की आवाज

      जिंदगी एक खूबसूरत नगमा है जिसे हम अपने अच्छे विचारों, अच्छे भावों,अच्छे कर्मों , अच्छे संस्कारों के सुरो से सजाएंगे तो जिंदगी एक मधुर संगीत की महफिल से सज जायेगी जो हमे भी और दूसरों को भी खुशियां ही खुशियां देगी.

परिवार की सुन्दरता

वह परिवार सबसे सुंदर होता है जहां घर का हर सदस्य मिल जुल कर प्रेम से सुख शांति पूर्वक रहता है वहा हर दिन दिवाली होती है।परिवार रूपी बगिया को अपने प्यार से सींचने वाले अप्रतिम सौंदर्य बिखेरने वाले उसे हरा भरा रखने वाले हमारे पूज्य माता पिता, बड़े बुजुर्ग, उस बगिया को महकाते चार चांद लगाते कलियों के रूप में बेटी- बेटे दामाद- बहू होते हैं और उस बगिया के प्यारे फूल होते हैं प्यारे नाती- पोते जो चारों ओर खुशबू ही खुशबू फैलाते हैं। सबके आपस के प्यार, विश्वास,समझदारी मान-सम्मान, कर्तव्य के फलों से लदी ये  बगिया सदा हरी भरी रहती है और अपना अप्रतिम सौंदर्य बिखेरकर अत्यंत सुकून शांति देती है इसीलिए वो परिवार स्वर्ग की तरह होता है जहां खुशियां ही खुशियां लहराती है।हम सब साथ साथ हैं यही संदेश हर परिवार का हर कुटुंब परिवार का होना चाहिए

परिवार एक मंदिर है परिवार की खुशी सबसे बड़ी दौलत है जो आपसी रिश्तों के पवित्र प्यार के अटूट डोर से बंधी होती है।

पत्थर तब तक सलामत है जब तक वो पर्वत से जुड़ा है,

पानी तब तक सलामत है जब तक वो दरिया से जुड़ा है,

पत्ता तब तक सलामत है जब तक वो वृक्ष से जुड़ा है

इसी तरह इंसान तब तक सलामत है जब तक वो अपने परिवार से जुड़ा है।

परिवार की एकता  सबसे बड़ी ताकत है,

सबके परिवार में खुशियों का सागर हो यही शुभ भावना है,,,

     

Leave a Reply

Your email address will not be published.