Activities

फरिश्ते सिर्फ आसमान में नहीं रहते हैं…

ममता गुप्ता, इंदौर ,, चलो चलते हैं मिलजुल कर वतन पर जान देते हैं, बहुत आसान है कमरे में वंदेमातरम कहना..!! फरिश्ते सिर्फ आसमान में

Activities

सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में हैं…

ऊषा नरेंद्र मंडलोई, धार  , सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में हैं, देखना हैं जोर कितन बाजू-ए-कातिल में हैं, वक्त आने दे बता देंगे

Activities

अखंड भारत बनाने का जूनून है मुझे…

वर्षा उपाध्याय, तिलक नगर, इंदौर  , इस देश के लिए शहीद होना कबूल है मुझे, क्योंकि अखंड भारत बनाने का जूनून है मुझे। वतन की

Activities

जिसे सींचा लहू से है वो यूँ खो नहीं सकती..

वर्षा कोस्टा, मुंबई  , जिसे सींचा लहू से है वो यूँ खो नहीं सकती, सियासत चाह कर विष बीज हरगिज बो नहीं सकती, वतन के

Activities

शहीदों के दिलों में थी जो ज्वाला उसे याद कर लें…

वंदना दुबे, ओल्ड पलासिया, इंदौर  , चलो आज फिर से वो नजारा याद कर लें, शहीदों के दिलों में थी जो ज्वाला उसे याद कर

Activities

भारत देश पर कुर्बान है मेरा सब कुछ…

वंदिता श्रीवास्तव, भोपाल-इंदौर निवासी  , प्रस्तुत छाया चित्र 33 अरण्य विहार,  चूना भट्टी भोपाल का है। इस देश की हिफाज़त ही मेरा ईमान है, मेरे

Activities

भारत देश पर कुर्बान है मेरा सब कुछ

स्वर्णा झंवर, बीसीएम सिटी, नवलखा, इंदौर  , इस देश की हिफाज़त ही मेरा ईमान है, मेरे वतन में ही बसती मेरी जान है, भारत देश

Activities

चलो आज फिर से वो नजारा याद कर लें

सुषमा व्यास ‘पारिजात’,नरीमन सिटी, छोटा बांगड़दा , चलो आज फिर से वो नजारा याद कर लें, शहीदों के दिलों में थी जो ज्वाला उसे याद

Activities

शहादत से बड़ी कोई इबादत हो नहीं सकती..

सुषमा दुबे, इंदौर , जिसे सींचा लहू से है वो यूँ खो नहीं सकती, सियासत चाह कर विष बीज हरगिज बो नहीं सकती, वतन के

Activities

मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में है..

सुषमा दुबे, विजयनगर, इंदौर , चिंगारी आजादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं, इन्कलाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं, मौत जहाँ जन्नत हो